UP बाल श्रमिक विद्या योजना 2022, UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022, पात्रता व दस्तावेज, विशेषताएं

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना आवेदन प्रक्रिया, UP Mukhymantri Bal Shramik Vidya Yojana, जानिए क्या है पात्रता व दस्तावेज? विशेषताएं

उत्तर प्रदेश में सरकार द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गयी है जिसमे श्रमिकों के बच्चों को उनकी पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है. इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा के अंतर्गत आने वाले बालक और बालिकाओ को शिक्षा के लिए अलग अलग प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी.

जिस योजना के बारे में हम बात कर रहे है उसका नाम है- ‘ मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2022’ इस योजना के क्या लाभ है ? यह योजना क्या है ? इस योजना में लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे करे? इसकी पात्रता क्या है ? उद्देश्य ? मुख्य दस्तावेज आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से देने जा रहे है, इसके बारे में सभी बातें विस्तार से जानने के लिए आपको यह स्टेटस पूरा पढ़ना है.

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022

उत्तर प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत की गयी है, इस योजना को शुरू करने की घोषणा मुख्यमंत्री आदित्यनाथ द्वारा 12 जून 2020 को बाल श्रमिक निषेध दिवस के दिन की गयी थी. इसके अंतर्गत मजदूरों के बच्चों को पढ़ाई के लिए सहायता राशि प्रदान की जाएगी, जिसमे लड़कियों को 1200 रूपये हर महीने और लड़को को 1000 रूपये धनराशि दी जाएगी.

इसके साथ ही जो श्रमिक बच्चे 8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ रहे है उन्हें हर साल 6000 रूपये की अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाएगी. इस साल राज्य सरकार ने इस योजना के अंतर्गत 2000 बच्चो को लाभान्वित किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया है. इस योजना से बच्चों में पढ़ाई के लिए जागरूक और उन्हे अच्छा भविष्य बनाने के लिए प्रेरित किया जायेगा.

up goverment yojna

मजदुर के परिवार के बच्चे परिवार की आर्थिक स्थिति ख़राब होने के चलते पढ़ाई नहीं कर पाते उन्हें काम मजबूरन करना पढ़ता है. राज्य सरकार ने ऐसी स्थिति को देखते हुए आर्थिक सहायता करने का फैसला किया और यह योजना की शुरुआत की. अभी राज्य सरकार द्वारा केवल इस योजना की घोषणा की गयी है. इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया शुरू नहीं की गयी है, जल्द ही शुरू की जाएगी.

सरकार द्वारा जल्द ही इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट जारी की जाएगी जिसमे इक्छुक लोग आवेदन कर इसका लाभ ले सकते है. इस योजना के शुरू हो जाने से बाल मजदूरी को रोका जा सकेगा और उन्हें पढ़ाई करने के लिए प्रोत्साहित किया जायेगा. इस योजना में 8 साल से लेकर 18 साल की उम्र के बच्चे शामिल किए गए हैं.

जानिए कैसे की जाएगी बच्चों की पहचान

राज्य में बाल श्रमिक विद्या योजना के अंतर्गत बच्चों की पहचान श्रम विभाग के अधिकारियों की ओर से सर्वेक्षण/ निरीक्षण में, ग्राम पंचायतों, स्थानीय निकाय, चाइल्डलाइन अथवा विद्यालय प्रबंध समिति द्वारा की जाएगी. इसमें बता दे कि यदि माता या पिता या फिर दोनों किसी लाइलाज रोग से पीड़ित है तो उनके बच्चों को सबसे पहले इस योजना के अंतर्गत लाभ देने के लिए चयन में प्राथमिकता दी जाएगी, इसके लिए आवेदकों को चीफ मेडिकल ऑफिसर के द्वारा दिया गया एक सर्टिफिकेट देना होगा. वही इसके साथ ही भूमिहीन परिवारों और महिला प्रमुख परिवारों के बच्चों के चयन के लिए 2011 की जनगणना की सूची उपयोगी होगी जब चयन प्रक्रिया हो जाएगी इसका डाटा पूरा e-tracking सिस्टम पर अपलोड किया जाएगा.

उद्देश्य

बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत करने के पीछे सरकार का उद्देश्य श्रमिकों के बच्चों को आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी इसके लिए उन्हें आवेदन करना है. आवेदन करने की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी. इस योजना से बच्चों के जीवन में बदलाव आएंगे, उन्हें आर्थिक रूप से मजबूती मिलेगी और चिंतामुक्त होकर वह पढ़ाई खाने पिने का खर्चा उठा सकते है. बच्चों की पढ़ाई लिखाई के खर्चे के लिए परिवार वालो पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा. राज्य में शिक्षा का स्तर बढ़ेगा बच्चों का भविष्य उज्जवल होगा.

new update : मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना के पहले चरण में 2000 श्रमिकों के बच्चों को कवर करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. इस योजना के सफलतापूर्वक संचालन के लिए सरकार द्वारा ट्रायल के आधार पर उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में ऐसी ही एक योजना आरंभ की थी जिसके बाद सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना का आरंभ किया गया है. इस योजना के अंतर्गत 8 से लेकर 18 साल की उम्र के बच्चे शामिल किए गए हैं.

जानिए आवेदन करने की पात्रता और मुख्य दस्तावेज

जो भी इक्छुक लोग UP Bal Shramik Vidya Yojana में आवेदन करने जा रहे है तो इससे पहले इसकी पात्रता और मुख्य दस्तावेज के बारे में विस्तार से जान ले. हम आपको अपने आर्टिकल में आगे इस बारे में समूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है. निचे बताई जा रही पात्रता निम्न है.

पात्रता

  • आवेदक की आयु 8 से 18 साल के बिच होनी चाहिए.
  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना ज़रूरी है.

मुख्य दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट फोटो

HIGHLIGHTS : Uttar Pradesh Bal Shramik Vidhya Yojana 2022

  • UP Bal Shramik Vidya Yojana को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किया गया है.
  • इस योजना को शुरू करने की घोषणा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 12 जून 2020 को बाल श्रमिक निषेध दिवस के दिन की गयी थी.
  • इस योजना के अंतर्गत शिक्षा को बढ़ावा दिया जायेगा.
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत राज्य के श्रमिकों के बच्चो को शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी.
  • इस योजना में आर्थिक सहायता छात्र को 1000 रूपये और छात्राओं को 1200 रूपये हर महीने राज्य सरकार द्वारा दिए जायेंगे.
  • इस योजना से गरीब बच्चों को आगे की पढ़ाई करने में मदद मिलेगी.
  • जो श्रमिक बच्चे 8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ रहे है उन्हें हर साल 6000 रूपये की अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाएगी.
  • अभी राज्य सरकार द्वारा केवल इस योजना की घोषणा की गयी है. इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया शुरू नहीं की गयी है, जल्द ही शुरू की जाएगी.
  • सरकार द्वारा जल्द ही इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट जारी की जाएगी जिसमे इक्छुक लोग आवेदन कर इसका लाभ ले सकते है.
  • इस योजना के शुरू हो जाने से बाल मजदूरी को रोका जा सकेगा और उन्हें पढ़ाई करने के लिए प्रोत्साहित किया जायेगा .
  • इस योजना में 8 से लेकर 18 साल की उम्र के बच्चे शामिल किए गए हैं.

जानिए इस योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

राज्य के जो भी इक्छुक इस UP Bal Shramik Vidya Yojana के अंतर्गत आवेदन करना चाहते है, उन्हें अभी थोड़ा और इंतज़ार करना होगा क्योकि अभी राज्य सर्कार द्वारा केवल इस योजना की घोषणा की गयी है इसमें लाभ प्रदान करने के लिए काम भी शुरू कर दिया है, जल्द ही इसमें आवेदन का काम शुरू कर दिया जायेगा. जैसे ही इसमें आवेदन करने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया जायेगा, हम आपको इसकी जानकारी अपने इस आर्टिकल के माध्यम से देंगे, जानने के लिए आपको हमारे द्वारा लिखे आर्टिकल पढ़ते रहना है.

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022 FaQs

बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 क्या है ?

इस योजना के अंतर्गत श्रमिक परिवार के बच्चो को शिक्षा प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता की जाएगी.

इस योजना में कितनी सहायता राशि दी जाएगी ?

इस योजना के अंतर्गत श्रमिक परिवार के बालको को 1000 रूपये और बालिकाओ को 1200 रूपये हर महीने राज्य सरकार द्वारा दिए जायेंगे.

इस योजना में आवेदन करने की पात्रता है ?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 18 साल से कम और वह उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए.

इस योजना में आवेदन कैसे करे?

इसमें आवेदन करने के लिए आपको थोड़ा इंतज़ार करना है अभी इसकी आवेदन प्रक्रिया को सरकार द्वारा शुरू नहीं किया गया है.

बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 का लाभ कौन-कौन ले सकता है ?

इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के गरीब बच्चो और श्रमिकों के बच्चों को दिया जायेगा जिससे की बच्चे आगे पढ़ सकते है

Leave a Comment

Your email address will not be published.